Google+ Followers

Sunday, July 16, 2017

ये आँखें क्या है इक आईना हैं,

ये आँखें क्या है इक आईना हैं,
 है इसमें तस्वीर मेरे सनम की,

ये इश्क क्या है इक जलजला है
आगाज है आनेवाले  गम की ,

ये जख्म क्या है इक तोहफा है
निशानियाँ हैं उनके करम की,

ये दर्द क्या है चिंगारियां है
ये है जलन किस्मत के सितम की,

जूनून क्या है नादानियाँ है                                                                               
आहट है बर्बादियों के कदम की,

ये खाब क्या है इक आसरा है,
ये है झरोंखा मन के भरम की।

No comments:

Post a Comment