Google+ Followers

Friday, July 24, 2015

kavitapath ( 12-07-2015)

इम्तहान

मैं बेगुनाह हूँ फिर भी वो खफा है मुझसे ,
'सुमन' मुहब्बत में इम्तहान अभी बाँकी है ।।


Main begunah hun Fir Bhi Vo Khafa Hain Mujhse ,
Suman Muhbbat Me Imthan Abhi Banki Hai .....



Sunday, July 19, 2015

ईद मेरी

खड़ी मैं छत पे रहूँ और गली से वो जाए ,
उसका दीदार  हो और ईद मेरी हो जाए ।।


Khadi Mai Chhat Pe Rahu Aur Gali Se Vo Jaye,,
Uska Didar Ho Aur EID Meri Ho Jaye .................


Wednesday, July 15, 2015

बेजान रिश्ते

बोझ लगता है सफर , रास्ते वीरान लगे ,
बेजान लगते हैं रिश्ते बिना मुहब्बत के ।| 



Bojh Lgta Hai Safar Raste Viran Lge ,
Bejan Lgte Hai Rishte Bina Muhbbat Ke .........








दूरियां मुहब्बत में

इसलिए दूरियां बढ़ती गई मुहब्बत में ,
हमसे रूठा न गया उनसे मनाया न गया ।


Isliye Duriya Bdhti Gai Muhbbat Me  ,
Hmse Rutha N gya Unse Mnaya N Gya .......




दिल की बीमारी

दिल की बीमारी लाइलाज यूँ नही होती ,
वो दर्द देते रहें हर रोज दवाई की तरह । ।


Dil Ki Bimari Lailaj Yun Nhi Hoti ...
Vo Drd Dete Rhe Hr Roj Dvai Ki Trh ....



Tuesday, July 7, 2015

प्यार मुहब्बत धोखा है

ऐ दिल समझता ही तू नही कई बार तुझे समझाया है ,
ये खेल नही तेरे बस का ये प्यार मुहब्बत धोखा है । ।




Aye Dil Smjhta Hi Tu Nhi Kai Bar Tujhe Smjhaya Hai ,
Ye Khel Nhi Tere Bs Ka Ye Pyar Muhbbat Dhokha Hai ...............



प्यार से मुकर जाना

प्यार करके कभी प्यार से मुकर जाना ,
इससे अच्छा है 'सुमन' डूब कहीं मर जाना ।


Pyar Krke Kbhi Pyar Se Mukr jana ,
Isse Achcha Hai "Suman " Dub Khin Mr Jana ...........













दिल का दर्द

टुटा हुआ दिल दिखाई तो नही देता मगर। …………। 
टूटते हुए दिल का दर्द देखा तो होगा तुमने मेरी आँखों में।




Tuta Hua Dil Dikhai To Nhi Deta Magar ,


Tutate Huye Dil Ka Drd Dekha To Hoga Tumne Meri Aankho Me.........











दांव पर मुहब्बत

इम्तहान तो है तेरे प्यार का लेकिन 
दांव पर आज मेरी मुहब्बत लगी है ।


Imtahan To Hai Tere Pyar Ka Lekin 
Dao Pr Aaj Meri Muhbbat Lgi Hai ............





सौ बार नाम तेरा लिया है

हर गली से कूँचों से हर डगर से पूछ ले ,

हर साँस में सौ बार नाम तेरा लिया है ।


Hr Gli Se Kuncho Se hr Dagar Se Puchh Le ,
Hr Sans Me Sau Bar Nam Tera Liya Hai .....







दिल के टूटने के बाद

ये सोंच कर वो परेशान बहुत रहते है .......
क्यूँ हम टूटे नही है दिल के टूटने के बाद ।



ye sonch kr vo preshan bhut rahte hain ,
kyun hm tute nhi hain dil ke tutne ke bad ....


दर्द देने वाले

रस्में -उल्फ़त में करम इतना तो किया होता ।
ऐ दर्द देने वाले......कभी दवा भी दिया होता ||


Rasme -ulfat me krm itna to kiya hota ,
Aie drd dene vale.......dva bhi diya hota.



...